High Blood Pressure को 10 Minute मैं कैसे Control करें-High BP Treatment.

High blood pressure images

high blood pressure ko kaise control kiya jaye

नमस्कार दोस्तों आज का टॉपिक है High Blood Pressure को 10 Minute मैं कैसे Control करें-High BP Treatment.दोस्तों आज के समय में 5 में से 3 लोग हाइपरटेंशन हाई ब्लड प्रेशर पीड़ित हैं उच्च रक्तचाप अर्थात हाइपरटेंशन एक बार हो जाए तो लोगों को उम्र भर गोलियां खानी पड़ती हैं,इसी बजह से आगे चलकर इन दवाइयों के side effect से हमारे शरीर का resistant बहुत कम हो जाता है जिसके कारण हमारी body की रोग प्रतिरोधक क्षमता ख़त्म हो जाती है और इसी वजह से हमारी किडनी ख़राब हो जाती हैं|

हाई  ब्लड प्रेशर के कारण हमारा हार्ट भी कमजोर हो जाता है ईसलिए BP को कंट्रोल करना बहुत जरूरी है लेकिन एलोपैथिक दवाइयों से BP को नियंत्रित करना उचित नहीं है क्योंकि एलोपैथिक दवाइयों के साइड इफेक्ट्स होते हैं|

इसका सबसे अच्छा उपाय आयुर्वेदिक है जो कि पूर्णता है सुरक्षित है तो आज हम आपको आयुर्वेदिक नुस्खों के बारे में बताने जा रहे हैं ताकि आप यदि अपनी बीवी को लिपिक एलोपैथिक दवाओं से कंट्रोल कर रहे हैं तो आज हम जो नुस्खा बताने जा रहे हैं उसे प्रयोग करके केवल 1 महीने के अंदर अपनी एलोपैथिक दवाओं को बंद कर सकते हैं और आप का BP बिना किसी दवा के नॉर्मल हो जाएगा

अगर आप किडनी के पेशेंट हैं और आपका  भी BP हमेशा हाई रहता है तो भी आप इन नुस्खों का प्रयोग कर सकते हैं जिससे आपका BP भी नॉर्मल हो जाएगा|

High Blood Pressure ke karan,High or low BP ke lakshan in hindi,

अनुवांशिकता -Heredity BP की समस्या कारण हो सकता है इसका अर्थ होता है अगर किसी परिवार मैं महिला या पुरुष को BP की समस्या है तो उनके बच्चों को BP की समस्या हो सकती है|

खतरनाक बीमारियाँ –kidney failure,हार्टअटैक,paralysis,रक्त वाहिकाओ का कमजोर होना आदि बीमारियाँ होने पर High blood pressure की समस्या हो सकती है|

मोटापा (Obesity)-मोटापा भी एक कारण हो सकता है High blood pressure का इसलिए मोटापा को control मैं रखें|

आयु(Age Factor)- जैसे जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती है रक्त वाहिकाओ की दिवारे कमजोर होती जाती है जिसकी बजह से High blood pressure की समस्या पैदा हो जाती है।

High Blood Pressure उच्च रक्तचाप के लक्षण

साँस लेने मैं तकलीफ,ज़्यादा तनाव, सीने में दर्द या भारीपन, सांस लेने में परेशानी, अचानक घबराहट, सिरदर्द , समझने या बोलने में कठिनाई, चहरे, बांह या पैरो में अचानक सुन्नपन, झुनझुनी या कमजोरी महसूस होना या धुंदला दिखाई देना जैसे लक्षण दिखाई देते है।

नार्मल ब्लड प्रेशर रेंज कितना होना चाहिए,ब्लड प्रेशर नापने का तरीका,ब्लड प्रेशर नापने की मशीन,ब्लड प्रेशर कैसे चेक करे,

एक नार्मल व्यक्ति का blood pressure 120/80 mmhg होता है

वृद्धों का blood pressure 140/90 mmhg होता है

जब किसी व्यक्ति का blood pressure इससे अधिक होता है तो उसे हाई bp कहते हैं|

हाई ब्लड प्रेशर का उपचार,हाई बीपी का इलाज,

हाई blood pressure को कम करने के लिए अधिकतर लोग एलोपैथिक दवा लेते हैं जो हमारी body के लिए बहुत ही खतरनाक हैं लेकिन आज हम आपको आयुर्वेदिक दवाओं से BP को control करना बताएँगे|

आवश्यक सामग्री -अर्जुन छाल 250ग्राम,मुलेठी 100 ग्राम ,गोरखमुंडी 50 ग्राम ,सर्पगंधा 100 ग्राम ,गिलोय 100 ग्राम इन सभी को लेकर पीसकर बारीक चूर्ण बना लीजिये|

दवा को प्रयोग करने का तरीका -1 चम्मच चूर्ण लेकर 2 कप पानी मैं गर्म करके काड़ा बना लीजिये जब पानी आधा 1 कप रह जाये तो आग से उतार कर छान लीजिये इसे गर्म ही पीना है जैसे चाय पीते हैं ये प्रयोग दिन मैं 3-4 बार करना हैं हर बार नया काड़ा बनाना है|

ये प्रयोग 2-3 महीने तक लगातार करने से High blood pressure हमेशा के लिए ठीक हो सकता है इसके बाद आप अपनी एलोपैथिक दवा भी बंद कर सकते है|

उच्च रक्तचाप में क्या खाएं क्या न खाएं,High blood pressure diet चार्ट इन हिंदी,

सफेद नमक का सेवन तुरंत बंद कर दें इसकी जगह पर सेंधा काला नमक प्रयोग करें। ध्यान रखें कि भोजन में पोटेशि‍यम की मात्रा अधि‍क, और सोडि‍यम की मात्रा कम होनी चाहिए।
 डेयरी उत्पाद, चीनी, रिफाइंड खाद्य पदार्थ, तली-भुनी चीजें और जंक फूड फ़ास्ट फ़ूड से हमेशा बचकर रहें।
चाय और कॉफी का सेवन तुरंत ही बंद कर दें, क्योंकि इनमें उपस्थि‍त कैफीन आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इसके अलावा दिनभर में कम से कम 10 से 12 गि‍लास पानी जरूर पिएं।

 

 

 

402 total views, 12 views today

Comments 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *